Top 10 amazing points about Afghanistan/ अफगानिस्तान के बारे मे 10 महत्पूर्ण जानकारी

Afghanistan

दोस्तो इस आर्टिकल मे हम Asia महाद्वीप में भारत के सात पड़ोसी देशों मे से एक Afghanistan के बारे में जानेंगे जो फिलहाल सुर्खियों में है। कुछ दिनों से अफगानिस्तान हर जगह चर्चाओं का विषय बना हुआ है। इस आर्टिकल मे हम अफगानिस्तान की capital, currency व इससे संबंधित latest news के बारे में जानेंगे। ये भी जानेंगे की Taliban क्या एक देश है और इसने kabul पर कैसे कब्जा किया। 

Afghanistan capital, currency, official language and latest news 

1. भारत के सात पड़ोसी देशों में से एक अफगानिस्तान है जो भारत के साथ सबसे कम सीमा साझा करता है। अफगानिस्तान भारत के अलावा चीन, पाकिस्तान, तजाकिस्तान, कजाकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान व ईरान के साथ सीमा साझा करता है। 
2. अफगानिस्तान एक Islamic country है जहां पर 99% लोग इस्लाम धर्म के रहते हैं। अफ़ग़निस्तान की राजधानी काबुल है जो सबसे बड़ा शहर है और सबसे ज्यादा जनसंख्या यही निवास करती है। 
3.  अफगानिस्तान एक इतिहासिक देश है जहां एक जगह है गांधार जिसका स्रोत महाभारत व अन्य ग्रंथों में मिलता है। यहां की भूमि पर कुषाण, गजनवी, मुगल व अन्य साम्राज्य का उत्थान हुआ है। 
4. अफगानिस्तान 7 अप्रैल 2007 में SAARC का सदस्य बना था। यहां की official भाषा दरी फारसी व पश्तो भाषा है। यहां की मुद्रा अफगानी रुपया है अक्सर लोगो के दिमाग में आता है और सर्च करते हैं 1 rupees equal to how many Afghani rupee तो बता दे 1 रुपया बराबर 1.16 अफगानी रुपया होता है। 
5. अफगानिस्तान का क्षेत्रफल 65,2864 वर्ग किलोमीटर है। यहां की जनसंख्या 31,390,200 है तथा जनसंख्या घनत्व 48.08 है। यहां का country code +93 है। 


6. अफगानिस्तान में कई नस्ल के लोग रहते हैं जिनमे सबसे अधिक संख्या में पश्तून ( पठान या अफगान ) हैं। इनके अलावा उज़्बेक, ताजिक व तुर्कमेन आदि हैं। ब्रिटिश सेनाओं द्वारा अफगानिस्तान पर हमला व अमेरिका द्वारा तालिबान पर हमला के बाद अफगानिस्तान पर सुरक्षा के लिए NATO ( North Atlantic Treaty Organisation) की सेनाए बनी हुई है। 



7. नाटो एक सैन्य गठबंधन है जो 30 देशों का सदस्य है। इसकी स्थापना 1 अप्रैल 1949 में हुआ था और इसका मुख्यालय ब्रुसेल्स बेल्जियम में है। इनका कार्य सुरक्षा व्यवस्था को बनाए रखना और बाहरी हमले की स्तिथि में देशों की रक्षा करना है। 
8.  तालिबान एक सुन्नी इस्लामिक कट्टरपंथी राजनैतिक दल है जिसकी शुरुवात 1994 में दक्षिणी अफगानिस्तान में हुई थी। तालिबान शब्द से अभिप्राय ऐसे छात्र से है जो इस्लामिक कट्टरपंथी पर विश्वास रखते हैं। इनकी सदस्यता पाकिस्तान तथा अफगानिस्तान के मदरसों में पढ़ने वाले छात्रों से मिलती है। अफगानिस्तान पर 1996 से 2001 तक तालिबानी शासन था।
9. 1995 में तालिबान ने अफगानिस्तान के काबुल पर कब्जा किया था फिर धीरे धीरे 1998 तक 90% अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया अफगानी लोगो ने भी पुरानी सत्ता से परेशान होकर तालिबान का स्वागत किया था। तालिबान ने कई काम किए अफगानिस्तान के विकास में लेकिन फिर सब कुछ बंद करने लगा जैसे सिनेमा हाल, 10 वर्ष से ऊपर लड़कियों की शिक्षा आदि। 7अक्टूबर 2001 में अमेरिकी सैन्य सेना ने अफगानिस्तान पर हमला कर दिया जिससे तालिबान भागने पर मजबूर हो गया। 


10. अफगानिस्तान छोड़ने के बाद तालिबान खुद को और मजबूत बना लिया लेकिन अमेरिकी सैन्य सेना के अफगानिस्तान में मौजूदगी की वजह से तालिबान खामोश था। America ने 20 सालो में 2 trillion dollor सेनाओं पर खर्च किए लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा 31 अगस्त से पहले बुला लेने पर तालिबान ने अफगानिस्तान के काबुल पर हमला कर दिया और 10 दिनो के अंदर काबुल पर कब्जा कर लिया।

Spread the love

Related posts

Leave a Comment